Friday, November 7, 2008

ब्लॉग नही खुलता या स्पैम बताता है?

हमको मेरे दो ब्लॉग स्पैम माने जा रहे हैं पोस्ट-पब्लिश करने के पहले मुझे व्हेरिफिकेशन माँगी जाती है क्या कारण हो सकते हैं?

यह प्रश्न पूछा है गिरीश बिल्लोरे "मुकुल" ने...

उतर- मुकुल जी, ब्लॉग को स्पैम से बचने के लिए ब्लॉगर की अपनी स्पैम पालिसी है। अगर आपके ब्लॉग पर दुसरे साइट्स से ली गई रचनाए, या बहुत सारे लिंक आदि मौजूद है अथवा किसी ने आपके ब्लॉग के सबसे ऊपर मौजूद नवबार मे Flag बटन पर क्लिक किया है तो ब्लॉगर इसे स्पैम के लिए चेक करना आरम्भ कर देता है... एसा लग रहा है कि आपके ब्लॉग पर या तो बहुत सारे ऐसी सामग्री मौजूद है जो किसी दुसरे साईट से ली गई है या किसी दुसरे की है... हो सकता है कई लोगो ने आपके ब्लॉग को Flag कर दिया हो.... आप ब्लॉगर हेल्प पर जाकर review के लिए आवेदन दे सकते है॥

और पढ़े

ब्लॉग हेल्प पर

1 comments:

''ANYONAASTI '' November 8, 2008 at 12:24 PM  

मेरा एक ब्लॉग " anyonasti-kabeeraa.blogspot,com स्वयं स्पैम के चक्कर में लगभग डेढ़ सप्ताह तक चिटठा -प्रवाह से बाहर हटा दिया गया था | मुझे ज्यादा तकनीकी ज्ञान तो नही है ,परन्तु लगता है जब - जब ब्लोगर के पंजीकृत फार्मेट से अलग हट कर कुछ किया जाता है ,कोई बड़ा तकनीकी परिवर्तन ब्लॉग टेम्पलेट में कराने की कोशिश की जाती और ब्लोगर के निर्धारित मानकों से ज़रा सा भी अलग होता है एर्रोर संदेश के साथ , सॉरी आजाता है और कई बार ऐसा होने पर उसे स्पैम की श्रेणी में समझ लिया जाता है ;इसी के साथ -साथ क्यों कि नेट पर यातो जावा स्क्रिप्ट अथवा एच टी एम एल कोड होता है ,किसी सॉफ्ट वेयर निमार्ण में कुछ भाग ऐसे भी होते हैं जिनमे कुछ निर्धारित अंशो को बार बार लिखना पङता है तो उनके लिए किसी एक अक्षर को की शब्द बना लेते है औ प्रयोग में लेट हैं \इसी प्रकार के संकेताक्षरो ,शब्दों [ मईक्रोज ] कही प्रतिक्तिया कर के पूरी व्यवस्था को भ्रष्ट कर सकते हैं \हम कल्पना नही कर सकते कि गूगल ब्लोगर पर ऐसा होने पर क्या होगा \ मेरी समझ में तो यही आया है इस विषय पर गूगल कि सहायता में जाने पर कुछ ऐसा ही ज्ञात हुआ था| दूसरी बात सामान्यता मैंने वर्ड-वेरिफिकेशन में मैंने पाया है कि शब्द कुछ कलात्मक ढंग से लिखे होते है ,जो संभवता आटोमेटिक मशीन टाईप सॉफ्ट वेयरों से निपटा जा सके |
गिरीश जी इतनी लम्बी टिप्पणी मैंने आप का ज्ञान बढ़ने के लिए नही कि है क्यों कि आप मुझसे ज्यादा ही जानते होंगें ,मै तो जुमा-जुमा आठ इन का भी नही हुआ हूँ ; यह मैंने अपनी जानकारी को परखने के लिए लिखा है |अब कोई जानकार जब आप की शंकाओं का समाधान करेगा तो मुझे भी कसौटी पर कसेगा \
अन्य सज्ञानी जनों उत्तर की आशा में anyonasti-chittha.blogspot.com से anyonasti-kaalchakra........वाला anyonasti-kabeeraa.bl,,,,,.co

Post a Comment

आपके विचारों का स्वागत है

Latest Post

Lattest Comment

English Blog Se

Visitor No.

  © Blogger template The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP